मालदा

मालदा

पश्चिम बंगाल का एक ऐतिहासिकशहर मालदा जो महानदी और कालिंदी नदियों के बीच स्थित है| यहाँ केवल चारो और से आम के बगीचे और समुद्र तट या अपने इतिहास विरासत के लिए भी लोकप्रिय आकर्षण स्थल है| पूर्व-औपनिवेशिक नवाबों
से लेकर ईस्ट इंडिया कंपनी तक, मालदा आपको हरे भरे दृश्य का नजारा दिखाई देता है कई स्मारकों के साथ बिखरे हुए, मालदा बंगाल में सबसे ऐतिहासिक शहरों में से एक है| मालदा एक नदी के किनारे पर बसा हुआ खूबसूरत शहर हैं यहाँ पर मनोरंजन के बहुत सारे साधन है| पर्यटक घुमने के साथ साथ अपने परिवार के साथ मनोरंजन भी करते है यहां की उष्णकटिबंधीय जलवायु पूरे देश से बड़ी संख्या में पर्यटकों को बेहद आकर्षित करती है| मालदा में घूमने के लिए महत्वपूर्ण स्थानों में से एक है| और यहाँ की ऐतिहासिक स्मारकोंजेसे रसूल मस्जिद, तांतीपर मस्जिद, बारा दरवाज़ा, दख़िल दरवाज़ा, और संत मखदूम शेख आखी सिराज का मकबरा
पर्यटकों के लिए आकर्षण स्थल है| पर्यटकों के लिए घूमने के लिए दर्शनीय स्थल है जो पर्यटकों को दूर दूर से आकर्षित करती है मालदा में दुर्गा पूजा, काली पूजा, ईद और क्रिसमस सहित कई त्योहार यहां मनाए जाते हैं। त्योहार के समय
मालदा घूमना सबसे अच्छा रहता है प्रकृति प्रेमियों के लिए, मालदा में घूमने के लिए सबसे अच्छे स्थानों में से एक जगह मानी जाती है| पर्यटकों के लिए घूमने के लिए एडिना डियर पार्क है इस पार्क की खूबसूरती में पार्क अपने प्राकृतिक आवास में कई
हिरणों को देखने के लिए एक उत्कृष्ट जगह है।| मालदा में बहुत ही लाजबाब और स्वादिष्ट भोजन का भी स्वाद आपको चखने को मिलता है| यहाँ पर भारत के हर कोने से लोग निराली और आकर्षण वाली वस्तुओ को देखने के लिए आते है|

मालदा घूमने का सबसे अच्छा समय

अक्टूबर, नवंबर और मार्च के बीच का समय पर्यटकों के लिए आदर्श होता है |

मालदा के पर्यटन, दर्शनीय स्थल

  1. दखिल दरवाजा
  2. गौर
  3. फिरोज मीनार
  4. चमकती मस्जिद चीका मस्जिद
  5. जौहरा काली का मंदिर
  6. एडिना डियर पार्क

कैसे पहुंचे मालदा


सड़क मार्ग द्वारा

मालदा कोलकाता से 326 किमी दूर है और नेशनल हाइवे 34 के जरिए यहां पहुचां जा सकता है। इस हाइवे के जरिए सिलीगुड़ी से भी यहां पहुंचा जा सकता है, जो कि 253 किमी दूर है।

रेल मार्ग द्वारा

सिलीगुड़ी और कोलकाता रेलवे स्टेशन मालदा को राज्य के बाकी हिस्सों से जोड़ते हैं।

हवाई मार्ग द्वारा

मालदा का सबसे नजदीकी एयरपोर्ट सिलीगुड़ी में है, जो कि भारत के प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है। साथ ही यह कुछ अंतरराष्ट्रीय गंतव्य से भी जुड़ा हुआ है |