मसूरी

मसूरी

उत्तराखंड की गोद में गढ़वाल हिमालय पर्वत की तलहटी में बसा खूबसूरत हिल स्टेशन और उत्तराखंड में घूमने के लिए सबसे अच्छी जगहों में से एक है, एक अद्भुत मौसम का दावा करता है और इसमें बहुत कुछ है, जो इसे सभी मौसमों में एक यादगार अनुभव बनाता है। समुद्र तल से 2005 मीटर की ऊंचाई पर स्थित मसूरी, हिमालय पर्वत और दून घाटी का मनोरम और रमणीय दृश्य प्रस्तुत करता है यह न केवल एक महत्वपूर्ण ऐतिहासिक केंद्र है, बल्कि मसूरी पर्यटन के लिए भी प्रसिद्ध है

उतराखंड यहाँ की पौराणिक ग्रन्थों में कुर्मांचल क्षेत्र मानसखंड के नाम से जाना जाता था| और यह स्थान पौराणिक ग्रन्थों में उत्तरी हिमालय में सिद्धन्धर्व, यक्ष, किन्नर, जातियों की सृष्टि राजा कुबेर का बताया गया हैं कुबेर की राजधानी अलकापुरी (बद्रीनाथ से ऊपर) बताई जाती हैं| पुराणों के कहने पर राजा कुबेर के आश्रम में ऋषि मुनि तप और तपस्या और पाठ किया करते थे

यहाँ के अंग्रेज इतिहासकरों के अनुसार ही यहाँ पर हुण,शक,नाग,खस,आदि जाति के लोग भी हिमालय के स्थानों में रहा करती थी और पुराने ग्रंथो में केदातोरर खंड व् मानस खंड के नाम से इस क्षेत्र का बहुत बड़ा उल्लेख हैं|इस स्थान को देवभूमि व् तपोभूमि माना के नाम से पूजा जाता था और आधिकतर यहाँ पर उत्तराखंड राज्य, जिसे पहले उत्तरांचल के नाम से नाम से लोग यहाँ की भूमि को जानते थे

इसे अक्सर देवभूमि (शाब्दिक रूप से “देवताओं की भूमि”) कहा जाता है उत्तराखंड हिमालय,और भाभार और तेराई के प्राकृतिक पर्यावरण अपनी खूबसूरती के लिए जाना जाता है| यह सदाबहार हिल स्टेशन होने के साथ साथ, प्रकृति की सुंदरता और पहाड़ियों, संग्रहालयों, एडवेंचर पार्कों, आर्ट गैलरी, क्लॉक टावरों और झरनों जैसे कई आकर्षणों के बीच स्थित है

केदारनाथ, बद्रीनाथ, गंगोत्री, यमुनोत्री, हरिद्वार और ऋषिकेश यहाँ के प्रमुख हिंदू तीर्थ स्थल है

मसूरी घूमने का सबसे अच्छा समय

मसूरी एक हिल स्टेशन है, जिसमें वर्ष भर सुखद जलवायु होती है। यह सितंबर से नवंबर के दौरान अपने पूरे खिलने पर हरियाली के साथ एक बहुत ही शांत जगह है। मसूरी घूमने का सबसे अच्छा मौसम अप्रैल से जून और फिर सितंबर से नवंबर के दौरान होता है । मानसून के दौरान इस जगह से बचना बेहतर होता है क्योंकि इस मौसम के दौरान भारी बारिश के कारण मसूरी की सड़कों का बुरा हाल हो जाता है। सर्दियों के लिए एक ही बात लागू होती है जब बर्फबारी के कारण सड़कें अवरुद्ध हो जाती हैं।

मसूरी के पर्यटन, दर्शनीय स्थल

  1. मसूरी लेक
  2. केंपटी फॉल्स
  3. लाल टिब्बा
  4. गन हिल
  5. द मॉल

कैसे पहुंचे मसूरी


सड़क मार्ग द्वारा

अच्छी तरह से बनी हुई सड़कें मसूरी को आसपास के सभी प्रमुख शहरों से जोड़ती हैं । दिल्ली मसूरी से 269 किमी दूर है, और कोई भी दिल्ली से मसूरी पहुंचने के लिए मेरठ, रुड़की, छुटमलपुर और देहरादून के माध्यम से आसानी से ड्राइव कर सकता है । दिल्ली और मसूरी के बीच 'उत्तरांचल राज्य परिवहन' की विभिन्न बसें।

रेल मार्ग द्वारा

निकटतम रेलमार्ग देहरादून में स्थित है, जो मसूरी से 34 किमी दूर स्थित है । यह देहरादून को दिल्ली, बॉम्बे, अमृतसर, वाराणसी और लखनऊ जैसे महत्वपूर्ण शहरों से जोड़ता है। शताब्दी एक्सप्रेस सबसे सुविधाजनक विकल्प है, अगर आप ट्रेन से दिल्ली से देहरादून की अपनी यात्रा की योजना बनाते हैं।

हवाई मार्ग द्वारा

मसूरी पहुंचने के लिए निकटतम हवाई अड्डा जॉली ग्रांट हवाई अड्डा है, जो देहरादून से 24 किमी दूर स्थित है । इस हवाई अड्डे से दैनिक उड़ानें (इंडियन एयरलाइंस और एयर डेक्कन) मसूरी को दिल्ली से जोड़ती हैं। मसूरी पहुंचने के लिए आप हवाई अड्डे से बस / टैक्सी / निजी कार में आसानी से जा सकते हैं।