ऑली

ऑली

साथियों औली बहुत ही सजावट वाला स्थान है जहाँ पर जाकर सभी पर्यटकों की आख्ने खूबसूरती को देखकर झिल मिल हो जाती है |जो उत्तराखंड की छाव वाला स्थान है | जो काफी बडे छेत्र में फैला हुआ है यहाँ पर प्रकर्ति ने मनो अपने हाथो से ओली की खूबसूरती को निखार दिया है | जो मन भावन लोगो के लिए आदर्श से भरा हुआ स्थान लगता है | यहाँ पर समय समय पर बारिश की तरह बर्फ झरती रहती है जो हांथो से स्पर्श करने से पूरे तन मन को ठण्डा कर देता है और शाम का नज़ारा देखने के लिए तो लोग भोजन करके सोने से पहले भ्रमण करने के लिए निकलते है यहाँ आकार आपको ऐसा प्रतीत होगा की आप कही दुनिया से अलग स्वर्ग में बेठे है | यहाँ बर्फ से भरी हुई चोटिया ढलान है जहाँ पर खड़े होकर पर्यटकों का ह्रदय बाग़ बाग़ हो जाता है | यहाँ अपना एक निगम भी है जिसका नाम गढ़वाल मण्डल विकास निगम है जो यहाँ की सभी व्यवस्थाओ को देखता है | यह निगम यहाँ के रहने वाले और देश विदेश के आये लोगो को स्की सिखाने की व्यवस्था की है। मण्डल द्वारा 7 दिन की नॉन-सर्टिफिकेट और 14 दिन की सर्टिफिकेट ट्रेनिंग दी जाती है। उस समय यहाँ पर स्किंगिंग सीखने वाले पर्यटकों के लिए खाने रहने स्की सीखने की सामग्री भी उपलब्ध कराई जाती है |

ऑली क्यों जाए

शीतकालीन साहसिक खेल, स्कीइंग, ट्रेकिंग, हिमालय दृश्य, कैम्पिंग, पर्वतारोहण, स्नोबोर्डिंग, हिमपात ट्रेकिंग

ऑली घूमने का सबसे अच्छा समय

हालाँकि, पूरे साल औली का दौरा करना हमेशा ही आनंदमय होता है, लेकिन यह गंतव्य अपने स्कीइंग ढलानों और बर्फ से ढकी वादियों के लिए प्रसिद्ध है, इसलिए नवंबर से मार्च तक के महीनों में औली जाने के लिए सबसे अच्छा समय है।


कैसे पहुंचे ऑली


सड़क मार्ग द्वारा

पर्यटक आसानी से जोशीमठ से सड़क के माध्यम से औली पहुंच सकते हैं जो टैक्सियों द्वारा जोशीमठ से जुड़ा हुआ है यह हिल स्टेशन से लगभग 15 किमी की दूरी पर स्थित है। उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम द्वारा संचालित बसें जोशीमठ, ऋषिकेश, हरिद्वार, और देहरादून जैसे शहरों से औली तक उपलब्ध हैं।

रेल मार्ग द्वारा

निकटतम रेलवे स्टेशन ऋषिकेश है जो औली से 262 किमी दूर पर स्थित है

हवाई मार्ग द्वारा

279 किमी की दूरी पर स्थित, जॉली ग्रांट हवाई अड्डा औली के सबसे नजदीक है, जहाँ आप कैब द्वारा आसानी से पहुँच सकते है।