कानपुर

कानपुर

दिलदारी का शहर घुमने आज ही जाए कानपूर जहा की मस्ती है देखने लायक और अंग्रेजो की हुकूमत का इतिहास का गव्हा है कानपूर बदलती रंगत का शहर है कानपूर छावनी से घिरा हुआ बढ़िया शहर कानपूर और यहाँ की सकरी गलिया और हसरतो और बुलंदियों का शहर है मैसूर और के भारतीयों वीरो को सलाम करता यह कानपुर शहर जहा के वीर जवानों ने अंग्रेजो का सामना जमकर किया और अपनी वीरता को बताया है| दिलचस्प है यह कानपूर शहर जो समय समय पर तरक्की के कदम चूम रहा हमारा कानपूर और गंगा जमुना संस्कृति का संगम कानपूर नगरी है दोस्तों कानपूर का इतिहास बहुत ही अलग है|

यहाँ पर २७ लाख की आवादी वाला शहर कानपूर दक्षिण की दिशा में बसा है और यह नगर यहाँ पर गंगा नदी पर बसा हुआ है| और यह स्थान यह पर ओद्योगिक राजधानी वाला शहर है| और यहाँ पर चर्चित ब्रह्मावर्त (बिठूर) उत्तर के मध्य में बना हुआ है और यहाँ का ध्रुव का टीला त्याग और तपस्या का सन्देश दे रहा है| यहाँ स्थापना सचेंदी राज्य के राजा हिन्दू राज्य ने की थी और कानपूर का पूरा नाम कान्हापुर था यहाँ पर महा भारत काल से ही यहाँ वीर जवानो ने कर्ण से मिलकर संदेहात्मक होने पर इतना प्रमाणित किया है और पुराने जमाने में यह स्थान कई पुराने गावों के पटकापुर, कुरसवाँ, जुही तथा सीमामऊ गाँवों के मिलने से बना था। एस नगर की बागडोर कन्नौज तथा कालपी के शासकों के हाथों में रही थी और फिर बाद में मुसलमानों ने यहाँ पर कुछ समय तक यहाँ पर अपना शासन कर लिया है|

कानपुर के पर्यटन, दर्शनीय स्थल

  1. नानाराव पार्क (कम्पनी बाग)
  2. चिड़ियाघर
  3. शोभन मंदिर
  4. श्री हनुमान मन्दिर पनकी
  5. सिद्धनाथ मन्दिर
  6. जाजमऊ
  7. सनाधर्म मन्दिर
  8. काँच का मन्दिर
  9. आनन्देश्वर मन्दिर परमट
  10. बिथूर
  11. बुद्ध बरगद
  12. कानपुर गार्डन
  13. श्री राधाकृष्ण मंदिर
  14. जागेश्वर मन्दिर चिड़ियाघर के पास
  15. जैन ग्लास मंदिर
  16. एलन फोरेस्ट चिडियाघर
  17. सिद्धेश्वर मन्दिर चौबेपुर के पास
  18. चन्द्रशेखर आजाद कृषि विश्वविद्यालय कानपुर
  19. गंगा बैराज
  20. बिठूर साँई मन्दिर
  21. मन्धना तकनीकी एवं शैक्षिक संस्थान
  22. श्री छत्रपति साहूजी महाराज विश्वविद्यालय (पूर्व में कानपुर विश्वविद्यालय)
  23. भारतीय तकनीकी संस्थान (आई.आई.टी.)
  24. हरकोर्ट बटलर तकनीकी संस्थान (एच.बी.टी.आई.)

कैसे पहुंचे कानपुर


सड़क मार्ग द्वारा

कानपुर में सड़कों का एक अच्छा नेटवर्क है। आसपास के और दूर-दराज के शहरों के लिए कई सार्वजनिक और निजी बसें। उत्तर प्रदेश राज्य सड़क परिवहन निगम निजी ऑपरेटरों द्वारा प्रस्तावित लक्जरी कोचों के अलावा अच्छी तरह से बनाए रखा बसों का एक बेड़ा चलाता है।

रेल मार्ग द्वारा

चूंकि कानपुर उत्तर भारतीय मैदानों के केंद्र में स्थित है, इसलिए यह दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और भारत के अन्य हिस्सों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। कानपुर बैरक कानपुर का मुख्य रेलवे स्टेशन है जो ग्रैंड कॉर्ड मार्ग पर पड़ता है। विभिन्न एक्सप्रेस और सुपर फास्ट ट्रेनें कानपुर को शेष भारत से जोड़ती हैं। फ्लैट गंगा के मैदानों में स्थित

हवाई मार्ग द्वारा

कानपुर प्रमुख भारतीय शहरों और हवाई सेवा के माध्यम से पर्यटन स्थलों से जुड़ा हुआ है। निकटतम हवाई अड्डा चकेरी है जो शहर से कुछ दूर है। कानपुर से भारत के कई शहरों के लिए दैनिक घरेलू उड़ानें हैं। राज्य के स्वामित्व वाली इंडियन एयरलाइंस के अलावा, कई निजी एयर टैक्सी ऑपरेटर हैं जो कानपुर से अन्य भारतीय शहरों में अपनी सेवाएं प्रदान करते हैं।