यह 1637 मे शाहजहाँ द्वारा निर्मित अंगूरी बाग़ अपने पूर्व की ओर खस महल और इसके तीन ओर लाल बलुआ पत्थरो से चलता है| अंगूरी बाग़ और फूलो की समृद्ध फसल के लिए जाना जाता था, बगीचे को शाही महिलाओ के लिए विश्राम का एक निजी क्षेत्र माना जाता था| यह बीच मे एक फव्वारे के साथ एक ठोस मंच से बना है| इसे विस्तृत ज्यामितीय पैटर्न के साथ बिभिन्न उपखंडो में विभाजित किया गया है| निजी क्षेत्र माना जाता था।यह बीच मे एक फव्वारे के साथ एक ठोस मंच से बना है। बगीचे को विस्तृत ज्यामितीय पैटर्न के साथ विभिन्न उपखंडों में विभाजित किया गया है। अंगूरी बाग़ के उत्तर-पूर्व में ऐसी संरचनाएँ हैं जो शाही स्नान घरों या हमाम के रूप मे उपयोग की जाती थीं और असाधारण रूप से बढ़िया दीवार चित्रो के साथ सजाई जाती थी। अंगूरी बाग का शाब्दिक अर्थ अंगूर की समृद्ध फसल है, जो आगरा में इस खूबसूरत पर्यटन स्थल के लिए जाना जाता था। आगरा किला परिसर मे खस महल अपने पूर्व मे और शेष तीन तरफ लाल सैंडस्टोन आर्कडेस से बाग़ है| इससे पहले अंगूरी बाग़ मे (मुगल युग) टहलने के लिए शाही महिलाओ का एक महत्वपूर्ण वर्ग था| उनके लिए हमाम (स्नान घर) को भी बगीचे के पूर्वोत्तर कोने पर इस तरह से खड़ा किया गया था| वर्तमान मे आगरा खूबसूरत पर्यटक आकर्षण है लगभग 85 सममित उद्यान है| बीच मे एक फव्वारा भी है जो इस जगह की विदेशी भव्यता के लिए और अधिक आकर्षण जोड़ता है| इसके अलावा बगीचे मे स्कैलप्ड बॉर्डर के साथ एक प्रतिबंधित फूल जो इस आकर्षक जगह की मुख्य विशेषताओ में से एक है| बगीचे के बीच मे, एक फव्वारा है जो इस जगह का प्रमुख आकर्षण है। मुगल काल के दौरान, अंगूर और फूलों की सबसे समृद्ध गुणवत्ता की कटाई के लिए अंगूरी बाग जाना जाता था। खुलने का समय सुबह 6 से शाम 5:30 बजे|

क्यों जाए

फूलो की समृद्ध फसल के लिए |