ऊटी

ऊटी

यह कोयंबटूर के उत्तर में 86 किमी और मैसूर से 128 किमी दक्षिण में बसा पहाड़ों की रानी ऊटी का पर्यटन बहुत ही सुन्दर आकर्षण वाला स्थल है जो नीलगिरी की पहाड़ियों में बसा भारत के तमिलनाडु राज्य में अपनी खूबसूरती से पर्यटकों को अपना दीवाना बना रहा है यहाँ पर प्रक्रति का खजाना आपको यहाँ से जाने नहीं देगा क्योकि ऊटी हां घास के मैदान, सुखदायक वातावरण, शांत मौसम जो सभी के मन को आनंद और अच्छा लगता है यूनेस्को की विश्व धरोहर में इसका नाम विख्यात है नी धुंधली हरी पगडंडियों के साथ अद्भुत प्राकृतिक उत्कीर्णन हजारों प्रकृति प्रेमियों को आकर्षित करता है ऊटी में मस्ती उत्साह भारत अपने परिवार दोस्तों के साथ छुट्टी के दिनों में जाना एक आदर्श गतव्य पर पहुँच कर मन खुश हो जायेगा ऊटी में अंतहीन गतिविधियां आपको हमेशा आश्चर्य की भावना से भर देंगी बॉटनिकल गार्डन, पाइकरा झील और फॉल्स और यहां तक ​​कि अभयारण्य बहुत ही शानदार स्थल है हरे-भरे घाटियों और कई सुंदर झीलों के साथ-साथ इसकी सुंदर सुंदरता ऊटी हमेशा समझदार यात्रियों पर अपना अलग ही प्रभाव डालती है |

ऊटी क्यों जाए

हरी पहाड़ियों, ऊंचे पर्वत, लंबी पाइंस, फैले घाटियां , नीलगिरी में एक पहाड़ी प्रकिर्तिक पर्यावरण सबसे बेस्ट और अलग है

ऊटी घूमने का सबसे अच्छा समय

गर्मियों के मौसम में मार्च से जून तक गर्मियों के महीनों में ऊटी में घूमना फिरना सबसे अच्छा होता है |मौसम ऊटी की सुंदरता का पता लगाने के लिए आदर्श है |मानसून में मॉनसून जून से सितंबर तक इन महीनों के दौरान इस क्षेत्र में कुछ हद तक बहुत भारी वर्षा होती रहती है |सर्दी के मौसम में अक्टूबर से फरवरी के अंत तक सर्दियों का मौसम मस्ती करने के लिए सर्दियों के दौरान हिल स्टेशन पर मस्ती सबसे अच्छी है |

ऊटी के पर्यटन, दर्शनीय स्थल

  1. अपर भवानी झील
  2. नीलगिरि पर्वत रेलवे
  3. पन्ना झील
  4. हिमस्खलन झील
  5. पयकारा झील
  6. सेंट स्टीफन चर्च
  7. शूटिंग प्वाइंट
  8. केटी वैली व्यू
  9. वनस्पति उद्यान
  10. अभयारण्य हिमस्खलन
  11. प्यकारा फॉल
  12. गुलाब का बगीचा
  13. थंडर वर्ल्ड
  14. खिलौना रेलगाड़ी
  15. डोड्डाबेट्टा चोटी
  16. मुरुगन मंदिर
  17. ऊटी झील
  18. मुदुमलाई नेशनल पार्क
  19. थ्रेड गार्डन
  20. केयर्न हिल
  21. एल्क हिल

कैसे पहुंचे ऊटी


सड़क मार्ग द्वारा

सड़क मार्ग से यात्रा करना भी एक अद्भुत अनुभव है क्योंकि दक्षिण भारत के प्रमुख शहरों से कई विकल्प सबसे अच्छे है ऊटी की ऊटी के लिए बसें बेंगलुरु, चेन्नई, मदुरै और कोयम्बटूर जैसे शहरों से जाती रहती है |

रेल मार्ग द्वारा

निकटतम रेलवे जंक्शन नीलगिरी टॉय ट्रेन भी ऊटी पहुंचने के लिए एक अच्छा ऑप्शन है टॉय ट्रेन को मेट्टुपालयम स्टेशन (52 किलोमीटर) का लाभ लिया जा सकता है

हवाई मार्ग द्वारा

88 किलोमीटर की दूरी पर बना ऊटी में हवाई अड्डा कोयम्बटूर है जो हवाई अड्डे पर पहुंच जाने के बाद फिर वहां से बसें और कारें आसानी से उपलब्ध हो जाती हैं |