डीग

डीग

भरतपुर शहर के निकटवर्ती क्षेत्र में डिग राजस्थान का एक छोटा सा शहर है| 18 वीं शताब्दी में महाराजा सूरज महल द्वारा स्थापित इसने शाही परिवार के लिए ग्रीष्मकाल रिसॉर्ट के रूप में कार्य किया| अपने शानदार महलो उत्तम किलेबंदी और देसी बाजारों के लिए लोकप्रिय शहर के जीवन के नियमित दिन से बच गया है| आप ग्रामीण परिद्रश्य मे और संस्कृति ले सकते है| यहाँ से ज्यादा दूर भी प्रसिद्ध भरतपुर पक्षी अभ्यारण्य नही है जो एक यात्रा अवश्य है| अधिकांश यात्री नियमित जीवन से छुट्टी की तलाश मे छुट्टी पर चले जाते है| कुछ लोग संस्कृति में बदलाब चाहते है और न केवल राहत एक ऐसी जगह हो सकती है| विशाल भीड़ से दूर एक छोटा और शांत गावं है जहाँ अपराजेय परिद्रश्य और प्रकृति के अद्भुत खेल को देखने के अवसर मिलते है| कुछ किलोमीटर दूर भरतपुर पक्षी अभ्यारण्य है, जहाँ आप दुर्लभ प्रजाति के पक्षी पा सकते है| डिग मे वापस आप ग्रामीण प्रष्टभूमि मे एक दिन बिता सकते है, देसी तरीके से रह सकते है और जीवन शैली मे बदलाब का आनंद ले सकते है|

डीग क्यों जाए

शानदार महलो , ग्रामीण प्रष्टभूमि |

डीग घूमने का सबसे अच्छा समय

सर्दियाँ, हालांकि शाम को ठंडी, सुखद सुबह के साथ आती है और यात्रा के लिए अच्छा समय बनाती है।

डीग के पर्यटन, दर्शनीय स्थल

  1. हवेली
  2. भरतपुर
  3. देगे किला
  4. भरतपुर पक्षी अभ्यारण्य |

कैसे पहुंचे डीग


सड़क मार्ग द्वारा

कुछ एक्सप्रेस ट्रेने है जो डिग स्टेशन पर रुकती है| इसलिए भरतपुर, आगरा, मथुरा या दिल्ली के लिए ट्रेन का चयन करना सबसे अच्छा है|

रेल मार्ग द्वारा

मथुरा – अलवर राजमार्ग पर भरतपुर तक कई संचालित बसे है | आप भारतपूत से डिग तक आसानी से उपलब्ध स्थानीय परिवहन का विकल्प चुन सकते है |

हवाई मार्ग द्वारा

निकटतम हवाई अड्डा दिल्ली में है जो डिग से 150 किमी दूर है| यात्रा के दौरान यात्रा करने के लिए स्थानीय टैक्सी, कार और बसे उपलब्ध है|