पारादीप

पारादीप

Visitor information

  • के लिए प्रसिद्ध: सी पोर्ट, समुद्र तट।
  • प्रमुख आकर्षण: बंगाल की खाड़ी।
  • निकटवर्ती स्थान: भुवनेश्वर, कटक, पुरी।
  • आदर्श यात्रा का समय: एक दिन से भी कम।

पारादीप उड़ीसा के जगतपुर जिले में जल्दी विकसित होने वाले औद्योगिक क्षेत्रों में से एक है पारादीप भुवनेश्वर हवाई अड्डे से 125 किमी और कटक रेलवे स्टेशन से लगभग 95 किलोमीटर दूर है पारादीप पोर्ट भारत के पूर्वी तट पर प्रमुख बंदरगाह शहरों में से एक माना जाता है इसको सबसे पुराना बंदरगाह भी कहते हैं महानदी और बंगाल की खाड़ी के संगम पर पारादीप एक सुंदर समुद्र तट है आगंतुकों के लिए सुंदर इंडिगो पानी में फ़ोलरिंग करके कुछ घंटे बता सकते हैं पारादीप के क्षमता का एहसास होने के बाद स्टील प्लांट एल्युमिना रिफायनरीयां एक पेट्रोकेमिकल कॉम्प्लेक्स, थर्मल पावर प्लांट सभी की योजनाएं बनाई जा रही है घूमने का मौसम नंबर से मार्च है बलदेव केंद्रपाड़ा के परदीप बीच मंदिर के पास के आकर्षक स्थान जिसे ‘तुलसी क्षेत्र’ के नाम से जाना जाता है यह भगवान वाला देव के मंदिर के लिए प्रसिद्ध है ऐसे उद्योगों के बारे में अधिक जानने के इच्छुक लोगों के लिए पारादीप पर्यटन मे बहुत कुछ है जो लोग प्रकृति की सुंदरता, विशाल समुद्र तट, उष्णकटिबंधीय सूरज, हरे भरे जंगलों और पानी की प्राकृतिक धाराओं को निहारना पसंद करते हैं उनके लिए यह एक स्वर्ग के साथ रोमांस करने लायक जगह है| मछली और झींगे यहां सबसे अच्छे हैं नारियल से बनी पारादीप लस्सी या ‘गावस्कर लस्सी’ एक ऐसा पेड़ है जो हर आगंतुकों को पसंद आता है पारादीप मे जलवायु को तीन मुख्य मौसमों में विभाजित किया गया है अर्थात गर्मी सर्दी और मानसून| ग्रीष्म काल गर्म और आर्द्र होते हैं और सर्दियों में बहुत ठंड पड़ती है|

Nearby Tourist Places In Paradip

यह जगह एक परिवार की यात्रा के लिए आदर्श जगह है जहां कोई भी तैरने को जा सकता है या पारादीप के समुद्र तट के झिलमिलाते सुनहरे पानी का आनंद ले सकता है म्यूजिकल फाउंटेन भी देखने लायक है पारादीप पर्यटन लाइट हाउस और नेहरू बंगलो तथा हनुमान मंदिर कई आकर्षण मे से एक है|

पारादीप क्यों जाए

सी पोर्ट, समुद्र तट , प्रकृति की सुंदरता , विशाल समुद्र तट , उष्णकटिबंधीय सूरज , हरे भरे जंगलों और पानी की प्राकृतिक धाराओ|

पारादीप घूमने का सबसे अच्छा समय

घूमने का मौसम नंबर से मार्च है|

पारादीप के पर्यटन, दर्शनीय स्थल

  1. पारादीप बंदरगाह
  2. गहिरमाथा अभयारण्य
  3. गहिरमाथा बीच
  4. भितरकनिका वन्यजीव अभयारण्य
  5. लाइट हाउस
  6. पारादीप बंदरगाह|