ब्रह्मपुर

ब्रह्मपुर

ब्रहमपुर या बेरहामपुर जिसे कहा जाता है दक्षिणी ओडिशा का सबसे बड़ा शहर और गेटवे है| ब्रहमपुर पूर्वी भारतीय राज्य ओडिशा के पूर्वी तट पर स्थित एक शहर है यह 350000 की आबादी वाला ओडिशा का तीसरा सबसे बड़ा शहर है| यह व्यापर केन्द्र है प्रसिद्ध रेशम पट्ट साड़ियो के कारण ब्रहमपुर को सिल्क सिटी कर रूप में भी जाना जाता है शहर के बुनकर समुदाय ने माहुरी के तत्कालीन राजा नारायण देव के अनुरोध पर 1662 – 1672 की अवधि के दौरान राजमुंदरी से पलायन किया| यह शहर थिएटर और सिनेमा के प्रति अपने प्रेम के लिए जाना जाता है| सही मायने मे गंजम कला परिषद् और प्रकाशम हॉल देश के सबसे पुराने थिएटर हॉल में से एक है श्री सीताराम शीशियाँ टॉकीज ओडिशा का सबसे पुराना सिनेमा हॉल है जिसकी स्थापना 1927 की गई थी| ये दुनिया भर मे हर जगह महत्वपूर्ण और बुनियादी नेतृत्व की स्थिति मे अपने असीम मानव संसाधन के लिए जाना जाता है|

ब्रह्मपुर के पास स्थित स्थान

गोपालपुर बीच, सूर्यपुर वर्जिन बीच, तंपारा झील का जल खेल परिसर, ततारिणी मंदिर, रामचंडी मंदिर, भैरबी मंदिर, जगुदादा, गुदुगुडा ( जिरंगा के पास, सुंदर जगह), बांकेश्वरी,बुधाखोला, सुंदरेश्वर मंदिर, माँ नारायणी मंदिर, बुरुकुडी आदि|

ब्रह्मपुर क्यों जाए

रेशम, मंदिरों और जीवंत संस्कृति

ब्रह्मपुर के पर्यटन, दर्शनीय स्थल

  1. गोपालपुर बीच
  2. आर्यपल्ली समुद्र तट
  3. ततारिणी मंदिर
  4. मंद्रिती सिद्ध भैरवी मंदिर