आइजोल

आइजोल

आइजोल, मिजोरम का सबसे बड़ा और खूबसूरत राजधानी शहर है, जो समुद्र तल से लगभग 1132 मीटरकी ऊंचाई पर पहाड़ियों पर बसा है| आइजोल के पहाड़ी आकर्षण को देखते हुए इसे ‘हाइलैंडर्स का घर’ भी कहा जाता है और यहाँ की प्राकृतिक खूबसूरती और सांस्कृतिक समृद्ध और आदिवासी और अपने हस्तशिल्प के लिए प्रसिद्ध है।पर्यटकों के घूमने के लिए आइजोल काफी लोकप्रिय है। इसकी खूबसूरती पर्यटकों के दिल को छु जाती है|

आप अपने दोस्तों या परिवार के साथ यहाँ पे अपनी छुट्टियो के यादगार पल बिता सकते है| और अपने हस्तशिल्प के लिए प्रसिद्ध है। पर्यटकों के पास शहर में दर्शनीय स्थलों की यात्रा का आनंद ले सकते है| डर्टलांग हिल्स, बंग,तामदील झील, पईखाई, मिनी जूलॉजिकल गार्डन, मिजोरम राज्य संग्रहालय, लुआंगमूल हस्तशिल्प केंद्र ससिबुता लंग आदि यहां के चुनिंदा सबसे खास पर्यटन स्थल हैं| ये स्थल पर्यटकों को बेहद आकर्षित करते है|

आइजोल घूमने का सबसे अच्छा समय

यह आम तौर पर गर्मियों के दौरान 20 से 30 डिग्री सेल्सियस तक के तापमान के साथ ठंडा होता हैऔर मई से सितंबर के महीनों के दौरान भारी बारिश होती है। सर्दियों का तापमान 10 से 20 डिग्रीसेल्सियस तक होता है। कोहरा आम है, और सूरज की पहली किरणें पहाड़ की चोटियों के लिए रास्ताबनाने के लिए इसे दूर ले जाती हैं-एक ऐसा दृश्य जो अक्सर कई पर्यटकों को आकर्षित करता है।

आइजोल के पर्यटन, दर्शनीय स्थल

  1. डर्टलैंग हिल्स
  2. रीक
  3. वांटवांग फॉल्स
  4. मिजोरम राज्य संग्रहालय
  5. सोलोमन मंदिर
  6. केवी स्वर्ग

कैसे पहुंचे आइजोल


सड़क मार्ग द्वारा

आइज़ॉल से सड़क के माध्यम से आसानी से पहुँचा जा सकता है। यह सड़क के माध्यम से सभी प्रमुख शहरों से जुड़ा हुआ है।

रेल मार्ग द्वारा

आइजोल का अपना एक रेलवे स्टेशन नहीं है। निकटतम रेलवे स्टेशन लुमडिंग में है। वहां से, आप आइज़ॉल तक बस प्राप्त कर सकते हैं या टैक्सी से जा सकते है |

हवाई मार्ग द्वारा

आइजोल का अपना हवाई अड्डा है। आइजोल और कोलकाता के बीच नियमित उड़ानें उपलब्ध हैं। की दूरी तय करने में लगभग 2 घंटे लगते हैं। शहर के किसी भी हिस्से की यात्रा करने के लिए आप हवाई अड्डे के बाहर आसानी से टैक्सियाँ कर सकते है |