छतरपुर

छतरपुर

छतरपुर मध्य प्रदेश मे 1785 मे स्थापित किया गया था| इसकी स्थापना बुंदेला राजपूत कबीले के नेता छत्रसाल ने की थी| यह जिला दुनिया भर मे पर्यटको को आकर्षित करने के लिए जाना जाता है| राणेह झरना भी इसी जिले मे स्थित है यह एशिया का एकमात्र झरना है जिसमे चुम्बकीय चट्टाने है जिन्हे आग्नेय चट्टाने कहा जाता है| इस जिले मे एक अन्य झरना को पांडव जलप्रपात कहा जाता है| ‘महाभारत, मे किवदंती के अनुसार पांडवो न झरने के पास शरण ली थी, और इसलिए इसका नाम पांडव जलप्रपात पड़ा| छतरपुर अपने पवित्र शहर जटाशंकर और मंदिरों जैसे बंबर बैनी (दुर्गा मंदिर), हनुमान टौरिया (हनुमान मंदिर) और कई और अधिक के लिए जाना जाता है। यहाँ तक की महाराजा छत्रसाल संग्रहालय छतरपुर जो छत्रपाल के शासन काल के दौरान जीवन शैली और इतिहास को प्रदर्शित करता है| पन्ना राष्ट्रीय उद्यान केन नदी के पास भारत मे सबसे प्रसिद्ध राष्ट्रीय उद्यानो मे से एक के रूप में जाना जाता है| यह पार्क जंगल मे मौजूद वनस्पतियो और जीवो की रक्षा के लिए बनाया गया था|

1. Monuments of Khajuraho Group, Madhya Pradesh

खजुराहो, मध्य प्रदेश का स्मारक समूह, भारत भारतीय इतिहास के सबसे उत्तम और कामुक वास्तुशिल्प प्रतिभाओ मे से एक के लिए प्रसिद्ध है। खजुराहो मंदिर, मध्य भारत के प्राचीन विंध्य ब्लॉक पर्वत श्रृंखला के दुलार मे बने मंदिरो का एक समूह है, जो कि धर्मग्रंथो के सबसे परिष्कृत रूप मे से एक और प्राचीन परंपरा के खजुराहो, मध्य प्रदेश का स्मारक सबसे उत्तम और कामुक वास्तुशिल्प प्रतिभाओ मे से एक के प्रसिद्ध है| खजुराहो मंदिर मूर्तियो के साथ नगर शैली के लिए प्रसिद्ध है|

2. Sixty-four Yogini Temple Madhya Pradesh

चौसठ योगिनी मंदिर मध्य प्रदेश मे छतरपुर जिले के खजुराहो मे चंदेला वंश द्वारा 885 ईस्वी पूर्व मे बनाया गया था| मंदिर की वास्तुकला शैली को खजुराहो शैली के रूप जाना जाता है| इस मंदिर का निर्माण देवी दुर्गा और उनके 64 योगनियो के लिए किया गया था|

छतरपुर क्यों जाए

एकमात्र झरना , मंदिरो |


कैसे पहुंचे छतरपुर


सड़क मार्ग द्वारा

छतरपुर, नोगावं से 24 किलोमीटर, बांदा से 105 किलोमीटर, महोबा से 54 किलोमीटर , झांसी से 133 किलोमीटर , शिवपुरी से 232 किलोमीटर , सागर से 162 किलोमीटर, विदिशा से 274 किलोमीटर , भोपाल से 342 किलोमीटर| यहाँ आसपास के शहरो के अलावा महानगरो के लिए 24 घंटे बसे उपलब्ध है |

रेल मार्ग द्वारा

निकटतम रेलवे स्टेशन छतरपुर एवं खजुराहो मध्य प्रदेश के प्रमुख शहरो से जुड़ा हुआ है | यह दिल्ली , आगरा , ग्वालियर मथुरा , अमृतसर, जम्मू, मुंबई, बैंगलोर, भोपाल, चेन्नई, गोवा और हैदराबाद जैसे शहरो से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

हवाई मार्ग द्वारा

निकटतम घरेलू हवाई अड्डा खजुराहो हवाई अड्डा है , जो छतरपुर से लगभग 45 मिनट की दूरी पर है | यह वाराणसी , दिल्ली और आगरा जैसे शहरो के एक स्पेक्ट्रम से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।निकटतम अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा भोपाल हवाई अड्डा जो छह घंटे की ड्राइव पर है |