सक्लेश्पुर

सक्लेश्पुर
949 मीटर की औसत ऊंचाई पर स्थित सक्लेशपुर खूबसूरत दिलकश आकर्षक पहाड़ों, प्राकृतिक सुंदरता और सुखद मौसम के लिए बहुत ही अच्छा होता है |जो भरपूर एक सुंदर हरी पहाड़ियों का दावा करता है। यह पर सकलेशपुर को सोंदर्य पूर्वक बनाने वाले सुंदर वातावरण और विलक्षण पर्वतीय स्थल जिनका आनंद लेने के लिए पर्यटक स्थलों की कमी नहीं है जहाँ पर सुखद जलवायु और इलायची, कॉफी, काली मिर्च और एरेका वृक्षारोपण से भरपूर एक सुंदर हरी पहाड़ियों का खजाना है यह स्थल हरे विशाल वृक्षों की छाया में बैठने के लिए, बिसले रिजर्व फ़ॉरेस्ट ट्रायल और कुमारा पर्वत के लिए ट्रेकिंग भी जगह की समृद्ध जैव विविधता का पता लगाने का सबसे अच्छा तरीका है। पुराने समय में यहाँ पर इस क्षेत्र में चालुक्य, होयसला और मैसूर के राजाओं का शासन था

सक्लेश्पुर क्यों जाए

सुखद जलवायु और इलायची, कॉफी, काली मिर्च और एरेका वृक्षारोपण का आनंद सबसे अच्छा है |

सक्लेश्पुर घूमने का सबसे अच्छा समय

अक्टूबर से मार्च का समय सबसे अच्छा रहता है |


कैसे पहुंचे सक्लेश्पुर


सड़क मार्ग द्वारा

सालेशपुर को हसन, आलूर, कोडलीपेट, आलूर, बोलगोड, कुरुबाथुर जैसे प्रमुख शहरों से जोड़ती कई बसें (केएसआरटीसी) हैं |

रेल मार्ग द्वारा

सकलेशपुर रेलवे स्टेशन - (1.9 किलोमीटर) शहर में पहुंचने के लिए निकटतम हवाई अड्डा है।

हवाई मार्ग द्वारा

निकटतम हवाई अड्डा (137.5 किलोमीटर) सकलेशपुर पहुंचने के लिए है।फ्लाइट द्वारा: मैंगलोर इंटरनेशनल एयरपोर्ट है |