मणिपाल

मणिपाल
1950 में चुना गया शहर मणिपाल को एक पश्चिमी घाट और पश्चिम में बसा हुआ कर्नाटक राज्य में बना उडुपी शहर से 7 किमी दूर अद्भुत घुमने का विशाल पर्यटन स्थान है जो एक पठार पर अपने स्थान से, यह पश्चिम में फारस की खाड़ी और पूर्व की ओर पश्चिमी घाट का मनोरम दृश्य प्रस्तुत करता हैजिसकी खूबसूरती को देखने के लिए देश विदेश से पर्यटक वर्ष भर यहाँ भीड़ लागए रहते है | जहाँ की प्राचीन सुंदरता और सुखद मौसम सबसे निराला होता है मणिपाल सार्वभौमिक रूप से विश्वविद्यालय शहर के रूप में प्रसिद्ध है इतिहास के अनुसार, मणिपाल का नाम मन्नू (यानी कीचड़) और पल्ला के नाम पर रखा गया है | टोंस माधव अनंत पई द्वारा छात्रों को चिकित्सा शिक्षा प्रदान करने के लिए संस्थानों की स्थापना के लिए चुना गया है |

मणिपाल घूमने का सबसे अच्छा समय

खुशनुमा मौसम के साथ अक्टूबर से मार्च का समय मणिपाल की सैर करने के लिए सबसे अच्छा है इन महीनों के दौरान शहर में दर्शनीय स्थलों की यात्रा का आनंद जहाँ का मौसम बहुत ही खुशनुमा और लाजबाव रहता है |


कैसे पहुंचे मणिपाल


सड़क मार्ग द्वारा

मणिपाल ब्रह्मवार (16 किलोमीटर), सोमेश्वरा (40 किलोमीटर), मंगलौर (61 किलोमीटर), श्रीगिरी (76 किलोमीटर), कोप्पा (80 किलोमीटर), भदौती (159 किलोमीटर), चिकमगलूर जैसे विभिन्न शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। (175 किलोमीटर), कुछ नाम करने के लिए।

रेल मार्ग द्वारा

उडुपी रेलवे स्टेशन जो लगभग है। मणिपाल से 5 किमी दूर निकटतम रेलवे स्टेशन है |

हवाई मार्ग द्वारा

मैंगलोर अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा निकटतम हवाई अड्डा है जो जिसे मणिपाल तक पहुंचने में डेढ़ घंटे का समय लेता है यह हवाई अड्डा अन्य प्रमुख शहरों जैसे चेन्नई, दिल्ली, रायपुर, बैंगलोर और कई अन्य शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।