नारनौल

नारनौल

नारनौल एक प्रसिद्ध शहर है| जो महेंद्रगढ़ में मौजूद है| मिथक के अनुसार, जंगलो को क्रूर शेर द्वारा खोजा गया था और इस तरह इस शहर का नाम जो ‘शेर का डर, है| यह प्रसिद्ध सूरी राजा शेरशाह का जन्म स्थान है| यहाँ एक जागीरदार का पद शेह खान के पिता के पास था, जिसने जहांगीर के लिए अपना कर्तव्य भी निभाया था| अकबर द्वारा इस स्थान पर एक खनन कारखाने का निर्माण किया गया था| राजपूतो ने इस स्थान की कमान संभाली| जब मुग़ल साम्राज्य की शक्ति में गिरावट शुरू हुई| और 1857 की क्रांति के बाद ब्रिटिश सरकार ने वहां का प्रशासन संभाला| जल महल को प्लेजर पैलेस के रूप मे भी जाना जाता है| इसे फारसी और भारतीय शैली की वास्तुकला का एक उदार मिश्रण देखा जा सकता है| बामनवास मंदिर, एक छोटे से गावं मे स्थित है| गंतव्य और गावं के बीच की दूरी मात्र 25 किलोमीटर है| रामेश्वरदास ने मंदिर का निर्माण कराया| चामुंडा देवी का मंदिर नारनौल मे पर्यटको के लिए एक और मुख्य आकर्षण है। नून खान ने इस मंदिर का निर्माण कराया था। यह तलहटी पर स्थित है। चोर गुम्बद, यह एक प्रसिद्ध स्थान है आधार के अलग – अलग कोनो मे चार मीनार होती है| प्रत्येक कोने मे एक| यह स्थान कई चोरो और डकैतो के छिपने के स्थान के रूप मे कार्य करता है| महासर, मार्च या अप्रैल मे महल मैदान में एक मेले का आयोजन किया जाता है, जिसका नाम ज्वाला देवी है यहाँ अनुयायी ज्वाला देवी की प्रार्थना करते है| इस मंदिर की एक अनोखी विशेषता यह है कि, देवी को मदिरा अर्पित की जाती है| मुकुंद दास का महल, इस महल की कुल पांच मंजिले है| यहाँ स्पष्ट रूप से कई हॉल, मंडप और सजाए गए कमरे देख सकते है| दीवान – ए – खास मे कई स्तम्भ मौजूद है| इस जगह को घेरने वाले क्षेत्र में वातावरण को ठंडा बनाने के लिए कई फव्वारे, झरने आदि है| जहाँ ढोसी हिल्स सिर्फ 8 किलोमीटर दूर है एक सुन्दर पहाडियों की झलक पा सकते है| चव्हाण ऋषि ने यहां पश्चाताप किया, पहाडियों के शिखर पर एक प्राचीन किला मौजूद है|

नारनौल क्यों जाए

कई फव्वारे , झरने , सुन्दर पहाडियो , प्राचीन किला |

नारनौल के पर्यटन, दर्शनीय स्थल

  1. जल महल अथवा प्लेजर पैलेस
  2. बामनवास मंदिर
  3. चामुंडा देवी का मंदिर
  4. चोर गुम्बद
  5. मुकुंद दास का महल
  6. दीवान – ए – खास |

कैसे पहुंचे नारनौल


सड़क मार्ग द्वारा

अन्य प्रमुख शहरो से नारनौल के लिए कोई बस मार्ग नहीं हैं। निकटतम बस स्टैंड कोसली है।

रेल मार्ग द्वारा

आप आसानी से देश के अन्य प्रमुख शहरों से नारनौल के लिए नियमित ट्रेन प्राप्त कर सकते है।

हवाई मार्ग द्वारा

नारनौल मे हवाई अड्डा नही है। निकटतम हवाई अड्डा इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा है।