मापुसा

मापुसा

माना जाता है कि मापुसा कोंकणी शब्द 'मानचित्र' का अर्थ 'माप' और 'सा' का अर्थ 'भरण' है और स्थानीय लोगों द्वारा इसे 'मापसा' कहा जाता है। मापुसा रामशकल में कई इमारतों वाला एक छोटा शहर है। मापुसा की यात्रा करें, जिसने शुक्रवार के प्रसिद्ध बाजार के कारण लोकप्रियता हासिल की। बाजार को पहली बार 1580 ई. में एक डच क्रॉनिकलर द्वारा 'बाज़ार ग्रांड' के रूप में वर्णित किया गया था।

मापुसा पडोसी कस्बो और गावो से अद्वितीय हस्तशिल्प सामान, कृषि उत्पाद, ताजे फल और अन्य स्थानीय जातीय सामान बेचने वाले फेरीवालो के साथ रंग बदलता है| मापुसा अपने विस्तृत समुद्री भोजन के लिए भी जाना जाता है| यह एक महान कई भारतीय शहरो के लिए बिशिष्ट शहर है| और गोवा के विदेशी यात्रियो के लिए अनुभव यह करने का मौका है कि भारत पर्यटक उन्मुख तटीय क्षेत्रो के बहार कैसा है| शहर मार्केट की खुली हवा बाजार मे पूरे सप्ताह घूमने के लिए आकर्षक है| लेकिन विशेष रूप से मापुसा फ्राइडे मार्केट पर जीवंत है| विदेशी फल, मसाले और स्मृति चिन्ह ख़रीदे| बाजार लगभग रात आठ बजे शुरू होता है| और सुबह की यात्रा का मतलब होगा कि आप दोपहर के सूरज की गर्मी से बचेंगे|

श्री हनुमान मंदिर एक सुन्दर इमारत और मापुसा मे महत्वपूर्ण स्थल होते है| मापुसा मे देखने के लिए बहुत कुछ नही है, हालाँकि शुक्रवार का बाजार एक यात्रा के लायक है| कैलंग्यूट बीच सभी कार्यवाई के केन्द्र मे है| उत्तरी गोवा के दो सबसे प्रसिद्ध समुद्र तटो मे से कैंडोलिम और बागा के बीच इसकी निकटता और इसके आस – पास के स्थान इसे एक पर्यटक स्वर्ग एक विशाल पार्किग कैलांगुट समर्पित रूप से कार्य करता है जिसका अर्थ है पर्याप्त वेतन और पार्क और एक परेशानी मुक्त दोपहर। यहां आपके भ्रमण पर आने वाले प्रमुख स्थल है।

मापुसा राष्ट्रीय राजमार्ग 17 पर बर्देज़ तालुका में अल्टिन्हो की पहाड़ी के ऊपर स्थित है। मापुसा पणजी से केवल 13 किमी दूर है और यात्रा करने के लिए सुविधाजनक है। बोडेश्वर मंदिर में भगवान कनकेश्वर बाबा के महोत्सव के कारण मापुसा एक फलते-फूलते बाजार केंद्र के रूप में विकसित हुआ।

मापुसा में खरीदारी

गोवा मे आपको सामान की किस्मे मिलेगी| यह उन लोगो के लिए सबसे अच्छा है जो खरीदारी की होड़ मे जाना पसंद करते है| बिभिन्न प्रकार की ताज़ी सब्जियो से लेकर मिटटी के बर्तन से लेकर फैंसी नक़ल, स्मृति चिन्ह और कपड़ो की किस्मे| यहाँ एक मछली की गली है जहाँ सूखे मछली, बेबी शार्क से लेकर मैकेरल तक की ताजा मछलियाँ भी इस बाजार मे बेची जाती है| बाजार ताजे मसालो, सॉसेज, गोअन होम – मेड चाउरिको, डूडल और चना डोसे वाइन और कई तरह की मिठाईयो के लिए जाना जाता है| यहाँ मापुसा मे कुछ शीर्ष पर्यटन स्थल है।

मापुसा घूमने का सबसे अच्छा समय

मापुसा अक्टूबर से अप्रैल का समय इसकी यात्रा के लिए सबसे अच्छा समय होता है| दिसम्बर से जनवरी का मौसम चरम का मौसम होता है| क्योकि यह त्योहारो का से होता है|

मापुसा के पर्यटन, दर्शनीय स्थल

  1. कालचा बीच
  2. मस्कारेन्हास हवेली
  3. अर्पोरा
  4. अल्डोना
  5. चापोरा का किला
  6. श्री कालिका मंदिर
  7. मापुसा फ्राइडे बाज़ार
  8. बेसिलिका ऑफ बोम जीसस
  9. अंजुना बीच
  10. बागा बीच
  11. बोडगेश्वर मंदिर
  12. चर्च ऑफ अवर लेडी ऑफ चमत्कार
  13. कांसरपाल-कालबादेवी मंदिर
  14. श्री कालका मंदिर
  15. श्री मोरजी मंदिर
  16. सेंट जेरोम चर्च
  17. तेरेखोल किला
  18. हनुमान का मंदिर
  19. वैगेटर किला

कैसे पहुंचे मापुसा


सड़क मार्ग द्वारा

गोवा को मुंबई से प्रसिद्ध मुंबई या गोवा राजमार्ग या राष्ट्रीय राजमार्ग 17 के माध्यम से पहुंचा जा सकता है| जो मुंबई को सीधे गोवा से जोड़ता है|

रेल मार्ग द्वारा

मापुसा लिए निकटतम रेलवे स्टेशन पर है मडगांव पणजी के पास जो गोवा उत्तर दक्षिण और मध्य भारत से रेलगाड़ियो द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है | कई यात्री सुविधाजनक प्रस्थान और आगमन समय के साथ मुंबई और गोवा के बीच बहुत सुविधाजनक ट्रेन का विकल्प चुना जाता है|

हवाई मार्ग द्वारा

मापुसा लिए निकटतम हवाई अड्डा पणजी में डाबोलिम हवाई अड्डे है| यह दक्षिण गोवा मे डाबोलिम हवाई अड्डा मुंबई , दिल्ली और बैंगलोर जैसे महानगरो से अच्छी तरह से जुड़ा होता है| हवाई अड्डे के लिए टैक्सी आसानी से उपलब्ध है| डाबोलिम एक अन्तराष्ट्रीय या सीमा शुल्क हवाई अड्डा नही है| इसलिए भारत के बाहर आने वाले यात्रियो को मुंबई या दिल्ली जैसे अन्तराष्ट्रीय अड्डो मे से एक माध्यम से पारगमन करना होगा|