करीमगंज

करीमगंज

असम का करीमगंज बांग्लादेश के साथ अपनी सीमा साँझा करता है| आपके लिए किसी सपनों के शहर जैसा साबित होगा।यह जगह प्रकृति प्रेमियो के लिए एक आदर्श स्थान है| छत्ताचुरा रेंज जो दक्षिणी पूर्वी भाग में स्थित है| जो प्रकृति प्रेमियों और एडवेंचर के शौकिनों को अपनी ओर आकर्षित करती है। इस जगह की प्राकृतिक सुन्दरता इतनी सुहानी है कि कोई भी बार – बार खुद को जाने से रोक नहीं सकता है| इसके बाद बदरपुरघाट नाम का ऐतिहासिक किला आता है| इस जगह सुन्दर बराक नदी बहती है यहाँ के सबसे आकर्षक पर्यटन स्थलों में से एक सोन बील है, जो करीमगंज का सबसे बड़ा वेटलैंड है| शिंगला नदी इस बील से होकर गुजरती है| और फिर कोचुआ और काकडा नामक दो और नदियों में विभाजित हो जाती है| बर्ड वॉचिंग और फोटोग्राफी भी आकर्षण पक्षियो की बिभिन्न किस्मे यहाँ बहुतायत में देखी जाती है| यह ऐसा यात्रा गंतव्य है जो ट्रेकर्स को भी आमन्त्रित करता है करीमगंज कई हस्तशिल्प वस्तुओं और जूट उत्पादों के लिए प्रसिद्ध है यह आपके लिए किसी सपनो के शहर जैसा साबित होगा| यहाँ से बहती नदियाँ, अ तालाब, घने जंगल, चाय के बागान आपको तरोताजा बना देंगे| करीमगंज परिवार और दोस्तों के साथ यादगार छुट्टियां बिताने के लिए एक आदर्श स्थल है, जहाँ आप किसी भी समय आ सकते है| खासकर सर्दियों के मौसम में| अगर आप फोटोग्राफी के शौकीन है, तो आप यहां आकर अपना शौक पूरा कर सकते हैं। यहां का सूर्योदय देखने लायक होता है। यह दिन के जीवन की हलचल से दूर एक आदर्श विकल्प होगा। जंगली जानवरों को उनके प्राकृतिक आवास में देखना एक प्रकार की भयानक घटना है।

करीमगंज क्यों जाए

बहती नदियाँ , तालाब , घने जंगल , चाय के बागान |

करीमगंज के पर्यटन, दर्शनीय स्थल

  1. छताछुरा रेंज
  2. एडमेल रेंज
  3. दुहलिया रेंज
  4. नदी कुशारा और सिंगला नदी
  5. सोन बिल मालागढ़ क्रिमेटोरियम
  6. बादरपुर फोर्ट
  7. खासपुर
  8. एओलबारी टी स्टेट|