'झीलों की नगरी' पिछोला झील, उदयपुर में आपका स्वागत है ..

अपनी रोज की थकान भरी जिंदगी को छोड़ कर निकले राजस्थान की पिछोला झील को देखने के लिए

दोस्तों हम सभी लोग हमेशा अपने रोज के कामो में और आफिस,के कामो में इतने व्यस्त हो गए है कि दुनिया में देखने और घुमने के लिए बहुत कुछ है जो हम लोग व्यस्तता के कारण नहीं जा पाते है लेकिन ऐसा नहीं करना चाहिये क्योकि घूमने से सिर्फ मन तो फ्रेश होता ही है साथ में आपके शरीर में पहले से ज्यादा काम करने की एनर्जी आ जाती,दिमागी थकान शरीर से बाहर निकल जाती है

मेरे प्रिय साथियों उदयपुर राजस्थान में स्थित पिछोला झील एक कृत्रिम झील है जो भारत का सबसे पहला रोमांटिक स्थान है जो भारत का टैग जिसे पहली बार 1829 में कर्नल जेम्स टॉड के द्वारा बनाया गया है जहाँ पर ट्राफिक के लिए बहुत कड़े नियम है उदयपुर के महाराणा उदय सिंह सिसोडीस के उत्तराधिकारी थे जिनका सिसोडिया विश्व में सबसे पुराने शासक परिवार हैं। इन लोगो को राजस्थान का सबसे शक्तिशाली लोगो के रूप में मान्यता दी गई है चित्तौड़गढ़ मेवाड़ के राजपूत साम्राज्य की पिछली राजधानी थी। उदयपुर एक बहुत ही प्रसिद्ध शाही शहर है जो बदलते समय के साथ बहुत ही तेजी से नए रूप में तब्दील होता जा रहा है,जो हमेशा से हर कार्य में उन्नति की तरफ है

अपने भारत ने पर्यटन के लिए एक ख़ास जगह बना रखी है यह ऐसी ही झील है जो भारत की शान बड़ा रही है अपने देश के राजस्थान राज्य के उदयपुर शहर में बनी जिसको मानव ने अपने हाथो से झील को झलकता हुआ सोंदर्य के समान बनाया है यह सब झीलों से अलग झील है जो बहुत ही पुराने समय से अपने आपको उदयपुर की शान बनाये हुए है, इस झील का नाम उदयपुर राजस्थान के निकटवर्ती पिछोला गाव पर रखा गया है इसका निर्माण 1362 मे किया गया था यहाँ पर झील के चारो तरफ से प्रकर्ति ने गुलदस्ते की तरह सजा रखा है जो यहाँ पर जंगली अरावली पहाड़िया के बैगनी लकीरे हर दिशा में फैली हुई है जिसने इस जगह को बहुत ही आकर्षण भरा होता है जो सभी को बेहद पसन्द आता है थोड़ी थोड़ी दूरी पर यहाँ ग्रामीण इलाका है जो बहुत ही शांति वाला इलाका है

उदयपुर में घूमने के बाद कुछ स्वाद भरा भोजन हो जाये

दोस्तों अगर आपने उदापुर आकर यहाँ का स्वाद नहीं चखा तो आपका उदापुर आना अधूरा है क्योकि यहाँ पर भोजन में शाकाहारी व्यंजन शामिल हैं जो सभी लोगो को बेहद पसंद होता है,यहाँ आपको दीप-तली हुई ब्रेड और मिर्च का व्यापक उपयोग खाने को बेहद स्वादिष्ट बना देता है

Rajasthan